अभी हाल ही में आपने ये खबर तो जरूर सुनी होगी कि पयर्टकों को मनाली रुट पर कितना लंबा जाम देखने को मिला था

कुछ ऐसा ही हाल आपको न्यू ईयर पर भी मिल सकता है, ऐसे में लोग या तो उस रास्ते जाने से बचेंगे या फिर घर पर बैठने के बारे में सोचेंगे 

लेकिन हमारे हिसाब से एन्जॉय सभी को करना चाहिए, पर हां, उस जगह पर नहीं जहां भीड़ सबसे ज्यादा हो! 

आज हम आपको कुछ ऐसी जगह के बारे में बताने वाले हैं, जहां भीड़ कम मिलेगी आपको इन हिल स्टेशनों के रूट्स पर कोई जाम भी नहीं मिलेगा। 

रेवलसर

मंडी जिले का यह छिपा हुआ झील शहर है, जो कई वर्षों से पर्यटकों के लिए एक ऑफबीट प्लेस बना हुआ है।

गुशैनी

समुद्र तल से 4500 फीट की ऊंचाई पर, यह गांव दिल्ली से 550 किमी की दूरी पर स्थित है और एक पसंदीदा डेस्टिनेशन माना जाता है। 

नौकुचियाताल

नौकुचियाताल दिल्ली के पास नए उभरते ऑफबीट हिल स्टेशनों में से एक है, ये शहर एक खूबसूरत झील से घिरा हुआ है 

तोश

दिल्ली के पास हिल स्टेशनों की यह लिस्ट पार्वती घाटी के छोटे गांवों के बिना अधूरी है, जो दिल्ली के यात्रियों को एक बढ़िया वीकेंड देती है

कसोल और मणिकरण के मार्ग पर आगे, कसोल गांव तक अभी भी कोई सीधी सड़क पहुंच नहीं है और गांव तक पहुंचने के लिए थोड़ी पैदल यात्रा करनी पड़ती है। 

खज्जियार

चंबा जिले में स्थित, यह दिल्ली के पास सबसे खूबसूरत हिल स्टेशनों में से एक है। डलहौजी से बक्रोटा हिल्स के रास्ते इस छोटे से हिल स्टेशन तक पहुंचा जा सकता है।

NEXT STORY :किसी जन्नत से कम नहीं नासिक कि पंचवटी ,जहां पर आज भी मौजुद है रामायण के सबुत