umngot river

Umngot River : नदी या कांच ! विदेश में नहीं भारत में है दुनिया की सबसे साफ नदी

Umngot River: देश की नदियों को साफ करने के लिए सरकार सालाना अरबों रुपये खर्च करती है। इसके बाद भी गंगा ( Ganga River) और यमुना (Jamuna River ) जैसी भारत की कई प्रमुख नदियों की स्थिति किसी से छिपी नहीं है। हालाँकि, आपको आश्चर्य होगा कि इस देश में ऐसी नदियाँ भी हैं जिनका पानी आश्चर्यजनक रूप से साफ है। इस नदी (Umngot River Meghalaya) में कुछ मीटर नीचे भी चट्टानें साफ दिखाई देती हैं।

Umngot River

इस नदी के जैसा इतना साफ़ पाणी शायद ही किसी और नदी का होगा । इस नदी को दुनिया की सबसे साफ नदियों में से एक माना जाता है। चलो इसके बारे में आपको और ज्यादा जानकारी देते हैं।

YOU MAY LIKE :

विदेश में नहीं भारत की इस जगह पर है यह नदी(Umngot River)

Umngot River Meghalaya

इस नदी का नाम उमंगोट (Crystel Clear Umngot River ) है। यह नदी भारत के एक खूबसूरत राज्य  मेघालय में स्थित है। नदी को साफ-सुथरा रखने की परंपरा प्राचीन काल से ही चली आ रही है। यह नदी मेघालय की राजधानी शिलांग (Shilong) से 95 किमी दूर भारत-बांग्लादेश सीमा के पास पूर्वी जैंतिया पहाड़ियों (Jaintiya Hills)में बहती है।

READ THIS ALSO :  Spiti Valley:पर्यटकों के लिए जन्नत से भी सुंदर है स्पीति घाटी,इन जगहों पर हर रूह को मिलेगा सुकून

Umngot River के पानी पर बहती नाव देखकर ऐसा लगता है जैसे हवा में हो

दरअसल इस नदी को उमगोट कहा जाता है लेकिन मेघालय में इसे ( dawaki )नदी (Dawaki  River)के नाम से जाना जाता है। जब आप यहां आते हैं तो पहाड़ों के बीच से बहते पानी की आवाज बहुत सुखद होती है। यहां आप हमेशा पक्षियों की चहचहाहट सुन सकते हैं।

cleanest umngot river Meghalaya

नदी पर चमकती सूरज की रोशनी यहां पर बहुत शांति देती है। मेघालय में उमगोट नदी का पानी इतना साफ है कि यह कांच जैसा दिखता है। इस नदी के पानी के नीचे की सभी चट्टानें साफ़ दिखाई देती हैं। इसमें गंदगी का एक भी कण नहीं देखने को मिलेगा । नदी में चलती हुई नाव भी हवा में तैरती हुई लगती है।

क्या कारण है कि इतना साफ पानी है Umngot River का

Umngot River

इस नदी का पानी यूं ही साफ नहीं रहता अगर्व नदी के पानी को साफ रखने के लिए ग्रामीण मिलकर इसे शुद्ध रखने की कोशिश करते हैं। हमें मेघालय के लोगों से सीखना चाहिए कि नदियों को कैसे साफ रखा जाए। उमगोट नदी तीन गांवों से होकर बहती है । मेघालय, Meghalaya डावकी, दरांग और शेनांगेंडेग। इन तीनों गांवों में 300 से ज्यादा घर हैं. इस नदी को साफ़ करने के लिए खासी (Khasi Community) समुदाय के लोग एक साथ आ रहे हैं। ये लोग हर दिन नदी को साफ करने में मदद करते हैं।

बहुत बड़ा जुर्माना होता है Umngot River को गंदा करने पर

 Umngot River Meghalaya

सामाजिक दिवस महीने में तीन से चार दिन होते हैं। इस दौरान गांव के प्रत्येक परिवार से कम से कम एक व्यक्ति नदी की सफाई के लिए आता है। इस नदी को साफ करने के लिए लोग भाई बनकर एकजुट होते हैं। साथ ही नदी को प्रदूषित करने पर 5,000 रुपये तक का जुर्माना लगाया जाएगा. नौकायन और प्राकृतिक सुंदरता का आनंद लेने के लिए पर्यटक नवंबर से अप्रैल तक यहां आते हैं।

READ THIS ALSO :  Best Islands In The World :दुनिया का ऐसा खूबसूरत आइलैंड, रहना-खाना फ्री, और साथ में देगा 1.5 करोड़ रुपए का वेतन भी

सड़क मार्ग से डाउकी कैसे पहुँचें?

डाउकी शिलांग से लगभग 82 किमी दक्षिण में मेघालय की दक्षिण-पूर्वी सीमा पर है। किराए की टैक्सी या निजी कार डाउकी तक पहुंचने का सबसे अच्छा तरीका है। यदि आप चाहें तो गुवाहाटी से पूरे रास्ते एक मोटरसाइकिल किराए पर ले सकते हैं, जो देश में सबसे अच्छी सवारी है। शिलांग से डावकी तक की यात्रा में आप शिलांग व्यू प्वाइंट (शिलांग पीक भी कहलाता है), एलिफेंट फॉल्स, लैटलिंगकोट और पिनुरस्ला जैसे स्थानों से गुजरेंगे।

WATCH VIDEO :

तो दोस्तों इस साफ नदी को देखने के लिए  आज ही निकल पड़िए। इस तरह के और कई सारे आर्टिकल्स पढ़ने के लिए हमारे इस साइट site को सब्सक्राइब करके रख दीजिएगा। इसकी वजह से आपको हमारे नए पोस्ट या नए आर्टिकल की जानकारी तुरंत आपको ईमेल के जरिए मिल जाती है।

यह लिख आपको कैसा लगा आप जरूर हमको लिखकर बताइएगा और आप इस लेख को अपने दोस्त और परिवार के साथ अपनी सोशल मीडिया अकाउंट्स पर शेयर कीजिएगा।

Leave a Reply

x
error: Content is protected !!
Scroll to Top