Kolhapur tourist places

Kolhapur Tourist Places : कोल्हापुर की इन 5 मशहूर चीज़ों के लिए दुनिया भर से लोग आते हैं

Kolhapur Tourist Places : महाराष्ट्र का एक प्रसिद्ध शहर कोल्हापुर अपने रंग-बिरंगे कपड़ों और चप्पलों के अलावा अन्य चीजों के लिए जाना जाता है। यहां खाने-पीने से लेकर घूमने-फिरने तक सब कुछ खास है। यहां आने वाले पर्यटकों ( Kolhapur Tourist Places ) का दिल यहां की संस्कृति की खूबसूरती देखकर कभी नहीं भरेगा। महाराष्ट्र के इस खूबसूरत शहर में आपको करने के लिए बहुत सारी दिलचस्प चीज़ें मिलेंगी।

Kolhapur tourist places

Kolhapur Tourist Places

कोल्हापुर एक प्राचीन शहर है जिस पर कई साल पहले भोसले छत्रपति का शासन था। हम आपको बताते हैं कि इस प्राचीन शहर में पर्यटकों के लिए क्या खास है।

1.कोल्हापुर खाना (Food Of Kolhapur)

kolhapuri muton thali

इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कहां हैं, अपनी यात्रा को अविस्मरणीय बनाने के लिए उस स्थान के सबसे प्रसिद्ध और स्वादिष्ट भोजन kolhapuri food का स्वाद लेना न भूलें। और जब बात कोल्हापुर की हो तो यहां का उदाहरण कोई कैसे भूल सकता है? महाराष्ट्र के ( Kolhapur Tourist Places ) इस प्रसिद्ध व्यंजन की कई विविधताएँ हैं जिनमें पडरे मिसल, कासबर्ग मिसल और बौडा मिसल शामिल हैं। यह सब शाकाहारी भोजन के बारे में है।

अब बताइए कि आप मांसाहारी के रूप में क्या खा सकते हैं। तंबौड़ा रस (मटन डिश), मसालेदार मटन और कीमा चावल के गोले कोल्हापुर के सबसे प्रसिद्ध मांसाहारी व्यंजनों में से हैं। जो कोई भी कोल्हापुर की यात्रा करेगा वह इसका स्वाद नहीं भूलेगा।

READ THIS ALSO :  Lakshadweep Airport:Exploring the Gateway to Paradise

2.कोल्हापुरी साज:Kolhapur Ornaments)

कोल्हापुरी साज:Kolhapur Ornaments)

कोल्हापुरी साज गले में पहना जाने वाला आभूषण है। यह गहनों का एक पारंपरिक टुकड़ा है जो कई सदियों पहले कोल्हापुर में पहना जाता था और अब महाराष्ट्र के अलावा अन्य राज्यों में भी बहुत लोकप्रिय है। परंपरागत रूप से इसमें 21 पत्तियां (पेंडेंट) होती हैं, लेकिन महिलाएं इसे दैनिक उपयोग के लिए केवल 10 या 12 पत्तियों से बनाती हैं। ये सजावट बेहद खूबसूरत लगती है. इसका डिज़ाइन कई पर्यटकों को आकर्षित करता है, इसलिए पर्यटकों को अक्सर इस डिज़ाइन से मिलते-जुलते कृत्रिम हार दिए जाते हैं।

3.दाजिपुर वाइल्डलाइफ सैंक्चुअरी(Dajipur Wildlife Sanctuary)

Dajipur Wildlife Sanctuary
Dajipur Wildlife Sanctuary

दाजीपुर वन्यजीव अभयारण्य ( dajipur wildlife sanctuary )एक बहुत ही खूबसूरत पर्यटन स्थल( Kolhapur Tourist Places ) है जो कोल्हापुर के वन्य जीवन को प्रदर्शित करता है। शहर का प्रदूषित वातावरण पूरे दिन सांस लेना मुश्किल कर देता है, लेकिन यहां आप न केवल ताजी हवा में सांस ले सकते हैं, बल्कि वन्य जीवन को भी करीब से देख सकते हैं। दाजीपुर वन्यजीव अभयारण्य के खुलने का समय सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक है। मंदिर में प्रवेश शुल्क सिर्फ 30 रुपये है, लेकिन अगर आप जीप या कार से जाना चाहते हैं तो आपको प्रति व्यक्ति 100 रुपये अतिरिक्त देने होंगे।

4.कोल्हापुरी चप्पल(Kolhapuri Chappal)

कोल्हापुरी चप्पल(Kolhapuri Chappal)

जब कोई कोल्हापुर का नाम सुनता है तो सबसे पहले उसके दिमाग में मशहूर चप्पलें आती हैं। कोल्हापुरी चप्पलें Kolhapuri Chappal देशभर में मशहूर हैं और इसका इतिहास सदियों पुराना है। भारत के अलावा अब इनका व्यापार विदेशों में भी होता है। भारतीयों के अलावा ये कोल्हापुरी चप्पलें विदेशियों ( Kolhapur Tourist Places )के बीच भी लोकप्रिय हैं। इन चप्पलों को आप भारत में आसानी से खरीद सकते हैं। ये चमड़े की चप्पलें मशीन से नहीं, बल्कि हाथ से बनाई जाती हैं।

READ THIS ALSO :  Andaman Nicobar Khan Pan:Exploring the Exquisite and Local food of Andaman

इन चप्पलों के रंग उन्हें विविधता और आकर्षण देते हैं। कोल्हापुरी चप्पल निर्माता ( Kolhapur Tourist Places ) अपनी कला को अगली पीढ़ी तक पहुंचाते हैं। कोल्हापुरी चप्पलें कई प्रकार की होती हैं, जिनमें दैनिक पहनने के लिए साधारण चप्पलें, विभिन्न प्रकार के सैंडल और पार्टी जूते शामिल हैं। भले ही पर्यटक भारतीय हो या विदेशी, कोई भी पर्यटक कोल्हापुर आकर इनमें से एक भी चप्पल नहीं खरीद सकता।

5.पन्हाला किला(Panhala Fort):Kolhapur Tourist Places

5.पन्हाला किला(Panhala Fort):Kolhapur Tourist Places

पन्हाला किला Panhala fort कोल्हापुर से 20 किमी उत्तर पश्चिम में पन्हाला में स्थित है। यह सह्याद्रि पर्वत के करीब है, जो महाराष्ट्र से तटीय बीजापुर क्षेत्र तक एक महत्वपूर्ण व्यापार मार्ग था। यह किला दक्षिणी महाराष्ट्र के प्रमुख किलों में से एक है। किले के अंदर एक मंदिर भी है और यह मंदिर छत्रपति शिवाजी का है। कहा जाता है कि इसी किले में शिवाजी के दुश्मनों ने उनके सामने आत्मसमर्पण किया था। इस किले का इतिहास यहां आने वाले पर्यटकों को आकर्षित करता है।

6.महालक्ष्मी मंदिर(Kolhapur Mahalakshmi Temple)

Kolhapur Mahalakshmi temple

कोल्हापुर का महालक्ष्मी मंदिर( Kolhapur Tourist Places ) 18 शक्तिपीठों में से एक है। यह मंदिर दक्षिण पुणे से 252 किमी दूर पंचगंगा नदी के तट पर स्थित है। ऐसा माना जाता है कि इस स्थान पर शक्ति प्रकट होती है और यह स्थान शक्ति के छह पवित्र घरों में से एक है जहां भक्त अपनी इच्छाओं से मुक्त हो सकते हैं। महालक्ष्मी मंदिर कोल्हापुर के प्रसिद्ध मंदिरों की श्रेणी में आता है। स्थानीय लोग महालक्ष्मी को अम्बाबाई भी कहते हैं। अम्बाबाई का अर्थ है दिव्य माँ। कोल्हापुर आने वाले पर्यटकों को इस मंदिर को कम से कम एक बार जरूर देखना चाहिए।

READ THIS ALSO :  Mumbai to Lakshadweep Cruise:An Amazing Journey to Paradise

7.कोल्हापुरी साड़ी(Kolhapur Sari)

कोल्हापुर की एक और प्रसिद्ध चीज़ जो यहां आने वाले सभी पर्यटकों ( Kolhapur Tourist Places )को आकर्षित करती है वह है सारवी सहन। जब आप कोल्हापुरी सिल्क साड़ी देखते हैं, तो हर महिला कम से कम एक बार इस अद्भुत सिल्क साड़ी को पहनना चाहती है। इस साड़ी के लिए उच्च गुणवत्ता वाले रेशम का उपयोग किया जाता है। यह महीन रेशम महंगा होता है इसलिए इससे बनी साड़ियाँ भी बहुत महंगी होती हैं। विदेशी पर्यटकों को भी इस स्कार्फ का रंग बहुत पसंद आता है और वे इनमें से एक साड़ी जरूर खरीदेंगे। महाराष्ट्र में कोल्हापुरी साड़ियाँ साड़ी दुकानों में आसानी से उपलब्ध हैं। इन साड़ियों की कीमत 1500 से 10000 रुपए के बीच है।

Leave a Reply

x
error: Content is protected !!
Scroll to Top