Chandoli:चांदोली ,एक छुपा हुआ गहना

Chandoli:चांदोली पश्चिमी महाराष्ट्र के सांगली जिले के शिराला तालुका में स्थित एक बहुत ही सुंदर और शांत एक छोटासा गांव है। पश्चिमी घाट के खूबसूरत पहाड़ों और जंगलों के बीच प्राकृतिक सुंदरता से भरपूर चांदोली यहां आने वाले लोगों को शांति का एहसास कराता है। पश्चिमी महाराष्ट्र क्षेत्र में, मानसून के मौसम के दौरान मौसम की स्थिति और प्रकृति के रंग अधिक जीवंत हो जाते हैं। आसपास के पहाड़ों और जंगलों की यात्रा के लिए यह सबसे अच्छा समय है।

chandoli
chandoli dam view

आप अपने गंतव्य तक पहुंचने के लिए सार्वजनिक बस या टैक्सी किराए पर ले सकते हैं। वैसे यहां आने के लिए महाराष्ट्रा सरकार की बसे(MSRTC) भी उपलब्ध है।

सड़कें(By Road)

चंदौली एक उत्कृष्ट सड़क नेटवर्क के माध्यम से महाराष्ट्र के अधिकांश प्रमुख शहरों से जुड़ा हुआ है। आप मुंबई (380 किमी), पुणे (210 किमी), सतारा (105 किमी) और कोल्हापुर (80 किमी) से टैक्सी या नियमित बस द्वारा चंद्री राष्ट्रीय उद्यान तक पहुंच सकते हैं।

Flights for chandoli

चंदोली डैम आप फ्लाइट्स से भी पहुंच सकते हैं।

उसके लिए आपको कोल्हापुर के हवाई अड्डे के ऊपर उतरना पड़ेगा। चंदोली दम से कोल्हापुर हवाई अड्डा ही सबसे नजदीकी वाला हवाई अड्डा है। बाकी पुणे मुंबई बेलगाम सब हवाई अड्डे लगभग 200/250 किलोमीटर के दायरे से बाहर है।

By Train

ट्रेन से भी चंदौली बड़ी आसानी के साथ पहुंचा जा सकता है। आप कोल्हापुर मिराज सांगली किसी भी रेलवे स्टेशन के ऊपर उतार के चंदौली पहुंच सकते हैं।

सांगली(Sangli) से चांदोली(Chandoli) का रास्ता बहुत अच्छा और हरियाली से भरा हुआ है। वैसे तो पूरा क्षेत्र ही मनमोहक दृश्यों से भरा हुआ है लेकिन अपने अनुभवों के आधार पर कुछ विशेष देखने योग्य जगहों के बारे में नीचे विस्तार से बता रहा हूँ ।

You may like:

वारणा बांध (Warna Dam)

वारणा बांध (Warna Dam) भारत के महाराष्ट्र राज्य में स्थित एक प्रमुख जलाशय है। यह डैम महाराष्ट्र के कोल्हापुर जिले में वारणा नदी पर बनाया गया है। वारणा नदी गोदावरी नदी की एक सहायक नदी है।

READ THIS ALSO :  Lakshadweep Tourism:जिस लक्षद्वीप की PM मोदी ने की तारीफ, कैसे पहुंचें? कितना आएगा खर्च; जानें सब कुछ

वारणा बांध का मुख्य उद्देश्य जल संचयन और खेती के लिए सिंचाई करना है। इसके माध्यम से कृषि और पानी की आपूर्ति को सुनिश्चित किया जाता है, जिससे कृषि क्षेत्रों में उत्तराधिकारी प्रभाव होता है। वारणा बांध का निर्माण महाराष्ट्र सरकार द्वारा किया गया और यह एक महत्वपूर्ण जल संचयन परियोजना है।

वारणा बांध के आस-पास क्षेत्रीय पर्यटन और प्राकृतिक सौंदर्य का आनंद लिया जा सकता है, और यहां पर एक बहुत ही बड़ा हाइड्रोइलेक्ट्रो पावर केंद्र है। यहां बनी हुई बिजली महाराष्ट्र के कई सारे गांव को और रोशनी देती है।

चांदोली नेशनल पार्क (Chandoli National Park)

tiger in chandoli national park
tiger in chandoli national park

चांदोली(chandoli) राष्ट्रीय उद्यान सह्याद्रि पहाड़ियों के मध्य में स्थित है। यह यूनेस्को की विश्व धरोहर सूची में शामिल है। राष्ट्रीय उद्यान में सह्याद्री टाइगर रिजर्व भी है। ध्यान रही यह नेशनल पार्क मानसून के दरमियां बंद रहता है। यह 15 अक्टूबर के बाद पर्यटकों के लिए खुला रहेगा और मानसून शुरू होने तक खुला रहेगा।नेशनल पार्क के गेट पर 1 अधिकारियों ने बताया कि टाइगर रिजर्व में कई सारे बाघ हैं।

राष्ट्रीय उद्यान के रास्ते में पड़ने वाली यह जगह बेहद खूबसूरत है। यहां दूर से वारना बांध का दृश्य बेहद आकर्षक है। आप बरसाती मौसम में भी वहां जा सकते हैं मगर आप नेशनल park chandoli का दीदार नहीं कर सकते सिर्फ वरना दम को देखकर वापस आ सकते हैं। बारिश के रुकने के बाद तो नजारा देखने लायक बनता है।एक तरफ हम पेड़ों से घिरे पहाड़ देख सकते है और दूसरी तरफ वारना नदी की खूबसूरत घाटी देख सकते है।

Chandoli Tiger Reserve

यहां पाए जाने वाले अन्य जंगली जानवरों में सबसे प्रसिद्ध बाइसन, हिरण, गौर, सांभर, भारतीय अजगर आदि हैं। पार्क का मुख्य द्वार बेहद आकर्षक ढंग से बनाया गया है। नेशनल पार्क के इस मुख्य प्रवेश द्वार पर आप अपनी तस्वीर खींच सकते हैं और हमेशा के लिए यादों में संभालकर रख सकते हैं।

YOU MAY LIKE:

कुछ ही दूरी पर एक मंदिर वाला एक छोटा सा गाँव भी दिखाई देता है। यह नजारा बहुत ही अद्भुत है. डैम का पानी दूर पहाड़ों के पास सूरज की रोशनी में चमकता है तो बहुत ही सुंदर नजारा दिखाई देता है।

READ THIS ALSO :  Shivaji maharaj fort:राजगढ़ की रहस्यमयी बाते ,जिसे आप अबतक जानते नहीं

आप यहां पर थोड़ी देर रुक कर पैदल चलकर इस मेहंदी खूबसूरत वातावरण का आनंद ले सकते हैं और तस्वीरों में कैदी कर सकते हैं।

चांदोली धरण व्यू पॉइंट (Chandoli Dharan View Point)

chandoli
chandoli

चांदोली डैम के पास एक ऐसी जगह है जहां से आप पूरे डैम का बहुत ही खूबसूरत दृश्य देख सकते हैं। यह जगह पर्यटकों में काफी ज्यादा लोकप्रिय है कारण यहां से जो वरना दम का खूबसूरत दृश्य तो दिखता ही है मगर साथ ही में आप खूबसूरत वरना नदी की बहती धारा को भी निहार सकते हैं।

हरे भरे ऊंचे ऊंचे पहाड़ और उन पहाड़ों के बीच दम का फैला हुआ पानी और डैम की दूसरी तरफ दम से निकलने वाली वरना नदी अपनी और सब का ध्यान खींच लेती है।

चावल के सुंदर खेत और आंबेवाड़ी गाँव(Beautiful Rice Fields & Ambewadi Village)

चंदोली DAM का दीदार करने के बाद आप वहां के एक छोटे से गांव जा सकते हैं, जिसका नाम है उकलू। जहां से रास्ता अंबेवाडी गांव की ओर जाता है। जब आप वहां पर पहुंचेंगे तब वहां की हरियाली देखकर आपका दिल खुश हो जायेगा। यह गांव सड़क के पास स्थित है. गाँव पार करने के बाद,आप खूबसूरत हरे चावल के खेतों की ओर बढ़ सकते है। इतने खूबसूरत और हरे-भरे खेत आपने शायद ही पहले कभी नहीं देखे होंगे। पहाड़ी ढलानों पर सीढ़ीदार खेत सचमुच अद्भुत लगतेहै।

ध्यान रहे यहां पर के घास में बहुत ज्यादा विषैला और बिन विषैला सांप पाए जाते हैं।

इसलिए आपको थोड़ा सा ध्यान रखना चाहिए।इन खूबसूरत मैदानों के बीच संकरे, ऊबड़-खाबड़ रास्तों पर चलना दिलचस्प है। इन खूबसूरत चावल के खेतों में, ग्रामीणों ने फसलों को बंदरों और पक्षियों से बचाने के लिए एक बिजूका भी बनाया। मुझे उम्मीद है कि इस गांव में आकर आपका दिल बहुत ही खुश हो जाएगा।

खूबसूरत झरना (Beautiful Waterfall)

अंबवाड़ी गांव के पास खेतों के सामने एक और पहाड़ पर दो बेहद खूबसूरत झरने देखे देखे जा सकते है। जंगल की हरी झाड़ियों से बहते दूधिया सफेद पानी को देखकर आपका मन मंत्रमुग्ध हो जायेगा। आपने ऐसे दृश्य केवल फिल्मों और किताबों में ही देखे होंगे।

READ THIS ALSO :  Arunachal Pradesh Map : Exploring breathtaking beauty and diverse landscapes
waterfalls
chandoli waterfalls

वहां घूमते वक्त आप वहां के लोकल किसानों से भी बात कर सकते हैं जिससे उसे इलाके की कई सारी जानकारियां आपको मिल सकती है।

वहां के लोग काफी ज्यादा मिलनसार है और आपको किसी तरह की कोई परेशानी वहां पर नहीं होने वाली है।

बताया जाता है कि वहां पूरे साल में कहीं भी मच्छर नहीं होते हैं और पूरा साल बहुत ही सुहावना जाता है।

Beautiful village

वहां पर और एक बहुत ही खूबसूरत झरना है जो की पहाड़ की तलहटी में है और वहां जाने का रास्ता बहुत ही छोटा है। वहां जाने के लिए आप वहां के किसी किस को साथ में लेकर जा सकते हैं क्योंकि ऊंची पहाड़ियों के बीच में से गुजरा वह छोटा सा रास्ता अगर आप भटक गए तो काफी ज्यादा मुश्किल हो जाएगी इसलिए आप वहां के किसी जानकारी के किसान या लोकल व्यक्ति को उसे झरने तक लेकर जा सकते हैं।

वहां जाने के बाद आपको पता चल जाएगा कि वाकई में एक बहुत ही खूबसूरत झरना जो कि ऊपर से तो नहीं दिखता है मगर पहाड़ की तलहटी में जाने के बाद वह दिखाई देता है।

वहां से वापस आने के बाद आप फिर से अंबेवाडी पहुंच सकते हैं। यह यात्रा बहुत ही मनमोहक बहुत ही सुंदर और खूबसूरत होने वाली है। जब आप वहां से निकलेंगे तो आप अपनी गोठड़ी में कई सारे खूबसूरत यादें लेकर जा सकते हैं।

वाकई में चंदौली दम (chandoli dam)और चंदोली नेशनल पार्क एक बहुत ही खूबसूरत जगह है और आप वहां पर बिल्कुल एक या दो दिन रुक सकते हैं।

Hotels in Chandoli:

Chandoli Resort:Address

Chandoli Resort Mandur- Jadhavwadi, Tal, near Chandoli National Park, Mandur, Maharashtra 415415•094034 41644

Sunrise chandoli resort:Address

Chandoli, Maharashtra 415415•073509 39393

Amazing Chandoli Resort:Address

Near ST Stand Mandur Tal. Shirala, Dist, Sangli, Maharashtra 415415

वहां पर रुकने की और खाने पीने की बहुत अच्छी व्यवस्था है। वहां कुछ होटल भी है उनके बारे में मैं आपको नीचे डिटेल में बता दूंगा।

चांदोली में ये करना ना भूलें  : ट्रैकिंग, टाइगर रिज़र्व में जाना, झरना देखना, फोटोग्राफी।  

चांदोली कैसे पहुँचे  : निकटतम हवाई अड्डा75 किलोमीटर दूर कोल्हापुर में  है। रेलमार्ग से सांगली देश के बड़े शहरों पुणे, मुंबई, दिल्ली, बंगलुरु से जुड़ा हुआ है।  इसके अलावा देश के सभी बड़े शहरों से सड़कमार्ग से चांदोली आसानी से जा सकते है।  

चांदोली जाने सबसे अच्छा समय : जुलाई से अक्टूबर ( मानसून के बारिश के वक़्त )

चांदोली जाने में लगने वाला समय :  2 दिन / 1 रात

Location:

Leave a Reply

x
error: Content is protected !!
Scroll to Top