ये हैं भारत के 6 ‘Mini Switzerland ‘ विदेशी आते हैं देखने, क्या आप घूमे हैं?

Mini Switzerland:स्विट्जरलैंड मध्य-पश्चिमी यूरोप में है। यह एक बहुत ही प्रसिद्ध और सुंदर देश है, जो अपने अल्प्स पर्वत राज्यों, घने वन्यजीवों और उच्च गुणवत्ता वाले उत्पादों के लिए जाना जाता है। स्विट्जरलैंड, यूरोप का सुंदर देश, किसी जन्नत से कम नहीं है। भारत में भी कई स्थान विदेशी लगते हैं। भारत में इन्हें मिनी स्विट्जरलैंड भी कहा जाता है।

क्या कोई स्विट्जरलैंड(Mini Switzerland) में बर्फ से ढके पहाड़ों, स्की रिसॉर्ट, झीलों और सुंदर दृश्यों के बीच छुट्टी मनाना चाहेगा? इस तरह के विचारों में छुट्टियां मनाने का सपना कई लोगों को होता है। लेकिन इच्छा अधूरी रह सकती है अगर बजट सीमित है। आप अपनी पत्नी को स्विट्जरलैंड (Mini Switzerland)जाने से मना नहीं कर सकते। तो क् यों न कोई उपाय खोजें, जिससे आपका काम और उनका विदेश घूमने का सपना पूरा हो जाए? ऐसे ही आप इस सपने को हकीकत में बदल सकते हैं। पासपोर्ट की भी जरूरत नहीं होगी। हां, भारत में कई स्थान हैं जो स्विट्जरलैंड (Mini Switzerland)या यूरोपीय देशों की तरह दिखते हैं। अब हम आपको भारत के छह ऐसे स्थानों के बारे में बता रहे हैं जो खूबसूरती से मिनी स्विट्जरलैंड कहलाते हैं।

Khajjiar, Himachal Pradesh:खज्जियार, हिमाचल प्रदेश(Mini Switzerland)

Mini Switzerland
Khajjiar, Himachal Pradesh

खज्जियार, हिमाचल प्रदेश, भारत में स्थित एक पर्यटन स्थल है जो प्राकृतिक सौंदर्य और शांतिपूर्ण वातावरण के लिए प्रसिद्ध है। यह स्थल हिमाचल प्रदेश के छोटे से गाँव “खज्जियार” के नाम पर रखा गया है और यह धार्मशाला शहर से लगभग ۲۰۰ किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

खज्जियार की प्रमुख विशेषताएँ:

  1. खज्जियार झील: यह छोटी सी झील है जो सुर्खियों में है। यह झील हरे-भरे मेदान में स्थित है और उसका पानी ग्लेशियर और बर्फ के पिघलने से आया है।
  2. खज्जियार मेदान: खज्जियार को “गोल्डन मेडोज़” के नाम से भी जाना जाता है, क्योंकि यहाँ के पेड़-पौधों की चमक और हरियाली बहुत खूबसूरत होती है।
  3. खज्जियार धर्मशाला: खज्जियार में एक छोटा सा धर्मशाला भी है जिसमें धार्मिक आयोजन और साधु-संतों के बारे में जानकारी मिल सकती है।
  4. ट्रेकिंग और पैराग्लाइडिंग: यहाँ कई ट्रेकिंग मार्ग हैं जो प्राकृतिक सौंदर्य को आसानी से अनुभव करने का अवसर प्रदान करते हैं। पैराग्लाइडिंग भी एक लोकप्रिय एक्टिविटी है जिससे आप ऊँचाइयों से प्राकृतिक दृश्यों का आनंद ले सकते हैं।
  5. माही नदी: खज्जियार के पास माही नदी भी है, जिसके किनारे आप आराम से समय बिता सकते हैं।
READ THIS ALSO :  Rann of Kutch: Exploring the Enchanting White Desert at Rann Utsav

Read This Also:भारत से अमेरिका के लिए पर्यटक वीज़ा Tourist Visa for USA from India

खज्जियार को हिमाचल प्रदेश का “मिनी स्विट्जरलैंड”(Mini Switzerland) भी कहा जाता है, क्योंकि यहाँ की आवाजाही, हरियाली और पर्याप्त पर्वतीय सौंदर्य से वास्तविक में यादें बनती हैं।

Jammu Kashmir:जम्‍मू कश्‍मीर(Mini Switzerland)

green pasture
Jammu Kashmir India

जम्मू और कश्मीर भारत का एक राज्य है जो उत्तरी भारतीय खण्ड में स्थित है और यह अपनी प्राकृतिक सौंदर्य, सांस्कृतिक धरोहर, और विविधता के लिए प्रसिद्ध है। यह एक पर्यटन स्थल के रूप में भी महत्वपूर्ण है और इसकी अनूठी खूबसूरती ने इसे दुनियाभर में मशहूरी दिलाई है।

कुछ महत्वपूर्ण तथ्य जम्मू और कश्मीर(Mini Switzerland) के बारे में:

  1. राजधानी: जम्मू और कश्मीर की राजधानी जम्मू है, जबकि उसका एक सबसे महत्वपूर्ण शहर स्रीनगर है।
  2. भाषाएँ: जम्मू और कश्मीर में कई भाषाएँ बोली जाती हैं, जैसे कि कश्मीरी, डोगरी, उर्दू, हिंदी और अंग्रेजी।
  3. धार्मिक स्थल: यहाँ कई धार्मिक स्थल हैं, जैसे कि अमरनाथ गुफा, वैश्नो देवी मंदिर, शंकराचार्या मंदिर, चारार-ए-शरीफ़, आदि।
  4. वादियाँ और झीलें: कश्मीर को “स्वर्ग की भूमि” कहा जाता है और यहाँ की प्राकृतिक खूबसूरती उसकी झीलों और वादियों में दिखती है, जैसे कि दल झील, नीलम झील, बेताब वादी, आदि।
  5. शिकारा और शिकारी: दल झील पर शिकारा यात्रा का आनंद लिया जा सकता है, जो खासकर स्रीनगर में आयोजित होती है।
  6. गुलमर्ग: गुलमर्ग विंटर स्पोर्ट्स के लिए प्रसिद्ध है, जैसे कि स्कीइंग और स्नोबोर्डिंग।
  7. कला और सांस्कृतिक धरोहर: कश्मीरी कला, कारपेट, पापीए माचे (Papier Mâché) उत्पाद, और शानादार कश्मीरी शॉल इस क्षेत्र की सांस्कृतिक धरोहर का हिस्सा हैं।

जम्मू और कश्मीर एक आकर्षक संग्रहणीयता का केंद्र है और यहाँ की शांति, सौंदर्य, और धार्मिकता लाखों यात्रीगण को आकर्षित करती है।

Read This Also:अब आप भी घूम सकते है पाकिस्तान:pakistan news on visa for indians

Auli, Uttarakhand:औली, उत्तराखंड(Mini Switzerland)

AULI BEST PLACES IN UTTARAKHAND
AULI BEST PLACES IN UTTARAKHAND

औली, उत्तराखंड, भारत के एक प्रमुख पर्यटन स्थल है जो उत्तराखंड राज्य के चामोली जिले में स्थित है। यह एक छोटे से गाँव के रूप में जाना जाता है और यहाँ की प्राकृतिक सौंदर्यता, हिमालयी वन्यजीव, और आध्यात्मिकता के लिए प्रसिद्ध है।

READ THIS ALSO :  Bangaram Island Lakshadweep:How To Reach ,Where To Stay And What To Explore

औली (Mini Switzerland)की महत्वपूर्ण विशेषताएँ:

  1. तुंगनाथ मंदिर: औली के पास तुंगनाथ मंदिर है, जो महादेव को समर्पित है और यह पांच पंचकेदरों में से एक है। यह मंदिर भारत में सबसे ऊँचे स्थित होने के साथ-साथ बहुत ही पवित्र माना जाता है।
  2. चोप्ता वन्यजीव अभयारण्य: औली के आस-पास चोप्ता वन्यजीव अभयारण्य है, जहाँ आपके पास हिमालय के वन्यजीव जैसे कि हिरण, बारहसिंगा, बंदर, और बहुत से पक्षियों का दर्शन करने का मौका होता है।
  3. आध्यात्मिकता: औली एक ध्यान और आध्यात्मिक आश्रमों का भी महत्वपूर्ण केंद्र है। यहाँ पर्वतीय स्थानों पर आश्रम हैं जहाँ आप ध्यान और मेडिटेशन का आनंद ले सकते हैं।
  4. पर्वतीय प्रकृति: औली अपनी प्राकृतिक सौंदर्यता के लिए भी प्रसिद्ध है, और यहाँ के प्राकृतिक दृश्य, पहाड़ियाँ और हिमालयी वन्यजीव खासतर से पर्यटकों को आकर्षित करते हैं।
  5. निकास वन्यजीव संरक्षण केंद्र: औली के पास निकास वन्यजीव संरक्षण केंद्र है जहाँ आप वन्यजीवों के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं और उन्हें निकट से देख सकते हैं।

औली एक शांतिपूर्ण और प्राकृतिक आत्मा से भरपूर स्थल है जो हिमालय की गोद में बसा है।

Manipur:मणिपुर(Mini Switzerland)

Manipur indias mini Switzerland
Manipur indias mini Switzerland

मणिपुर भारत के नॉर्थईस्टर्न राज्यों में से एक है, और यह अपनी सांस्कृतिक धरोहर, प्राकृतिक सौंदर्यता, और विविधता के लिए प्रसिद्ध है। यह राज्य पूर्व में मणिपुर पहाड़ियों और पश्चिम में बंगाली क्षेत्रों के साथ समृद्ध है।

Read This Also:Manipur Best Places To Visit मणिपुर के 10 सबसे ज्यादा खूबसूरत पर्यटन स्थल

मणिपुर(Mini Switzerland) की महत्वपूर्ण विशेषताएँ:

  1. इमा केथेल (Ima Keithel): यह एक मातृ बाज़ार है जो महिलाओं द्वारा संचालित होता है और यह भारत में ऐसा एकमात्र बाज़ार है जो सिर्फ महिलाएँ चलाती हैं।
  2. केबुल लमजाओ (Keibul Lamjao) जील: यह विश्व का एकमात्र अहटपाद झील है और यहाँ का मुख्य आकर्षण मनिपुरी संरक्षित हिरण, संगई के स्थानीय प्रजाति के लिए है जिन्हें “संगई दीर्घशिरा” कहा जाता है।
  3. मणिपुरी रास लीला: यह एक प्रसिद्ध लोक नृत्य और गीत आदि का उदाहरण है जो मणिपुर की सांस्कृतिक धरोहर का हिस्सा है।
  4. मणिपुरी थाली: मणिपुर की खाद्य परंपरा भी अपने आप में बहुत ही रोचक है, और मणिपुरी थाली में भारतीय और स्थानीय खाद्य पदार्थ शामिल होते हैं।
  5. विविध संस्कृति और भाषाएँ: मणिपुर में विभिन्न जातियों और समुदायों की संस्कृतियाँ और भाषाएँ हैं, जैसे कि मणिपुरी, मीतेइ, थाडू, कुकी, आदि।
  6. सौंदर्यकला: मणिपुर की कला और हस्तकला भी विशेष है, और यहाँ की रूमाल, पांदल और खाम (traditional shawl) कला के उत्कृष्ट उदाहरण हैं।
READ THIS ALSO :  Mumbai To Goa Distance: Best Routes, Distance and Travel Time

मणिपुर एक अद्वितीय प्राकृतिक और सांस्कृतिक धरोहर रखने वाले राज्य के रूप में माना जाता है, और यह अपने प्राकृतिक सौंदर्य, भूतिक विविधता, और विशेष संस्कृति के लिए प्रसिद्ध है।

Kausani, Uttarakhand:कौसानी, उत्तराखंड(Mini Switzerland)

mountain peaks under blue sky with white clouds
Kausani, Uttarakhand

कौसानी उत्तराखंड राज्य, भारत में स्थित एक छोटा सा पहाड़िया स्थल है जो पर्यटन के लिए प्रसिद्ध है। यह स्थल उत्तराखंड के बिन्नर जिले में स्थित है और यहाँ की प्राकृतिक सौंदर्यता, मनमोहन मालवीय की ग़ज़लों की गुफाएँ और प्राचीन हिन्दू मंदिरों के लिए प्रसिद्ध है।

कौसानी(Mini Switzerland) की मुख्य विशेषताएँ:

  1. नैनीताल और पीतलधर: कौसानी से आप नैनीताल और पीतलधर की ओर जा सकते हैं, जो भी पर्यटकों के लिए आकर्षण स्थल हैं।
  2. अनशक्ति आश्रम: कौसानी में अनशक्ति आश्रम है, जो आध्यात्मिकता के प्रेमी के लिए एक शांतिपूर्ण स्थल है।
  3. मनमोहन मालवीय की ग़ज़लों की गुफाएँ: कौसानी में मनमोहन मालवीय, जिन्होंने हिंदी कविता और ग़ज़लों में महान काम किया था, की गुफाएँ भी हैं।
  4. अनशक्ति आश्रम: कौसानी में अनशक्ति आश्रम है, जो आध्यात्मिकता के प्रेमी के लिए एक शांतिपूर्ण स्थल है।
  5. कौसानी कैंटॉनमेंट: यहाँ कौसानी कैंटॉनमेंट बाजार भी एक प्रमुख खरीदारी का स्थल है, जहाँ स्थानीय आइटम और सुविधाएँ उपलब्ध हैं।
  6. अनन्या शिक्षण संस्थान: कौसानी में अनन्या शिक्षण संस्थान भी है, जो योग, ध्यान और आध्यात्मिक शिक्षा प्रदान करता है।

कौसानी एक शांतिपूर्ण और प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर स्थल है जिसे विशेष रूप से वहाँ की पहाड़ियों के प्रेमी और आध्यात्मिकता के शौकीन पर्यटकों के लिए सुना जाता है।

Barot Valley, Himachal Pradesh:बरोट वैली, हिमाचल प्रदेश(Mini Switzerland)

the last indian village mana
Barot Valley

बरोट वैली हिमाचल प्रदेश, भारत में स्थित एक छोटी सी पर्यटन स्थल है जो कांग़र जिले के अंभ पाप्ल गॉर्ज के किनारे स्थित है। यह स्थल प्राकृतिक सौंदर्यता, शांतिपूर्णता, और आवाजाही के लिए प्रसिद्ध है।

बरोट वैली(Mini Switzerland) की मुख्य विशेषताएँ:

  1. ट्रेकिंग: बरोट वैली एक मानसून ट्रेक के आदर्श स्थलों में से एक है। यहाँ से हिमाचल प्रदेश के आकाशगंगा ट्रेक और धराना वैली ट्रेक शुरू होते हैं।
  2. बरोट झील: बरोट वैली में बरोट झील है, जिसे बरोट के छोटे से गाँव के नाम पर रखा गया है। यह झील पर्यटकों के बीच बहुत पॉपुलर है और यहाँ वन्यजीव भी देखे जा सकते हैं।
  3. आवाजाही: बरोट वैली की आवाजाही और शांतिपूर्णता इसे एक पर्यटन स्थल के रूप में और भी आकर्षक बनाते हैं।
  4. खज्जियार की तरह: कुछ लोग इसे “मिनी खज्जियार” के रूप में भी जानते हैं, क्योंकि इसके अपने मेदान और घाटियाँ खज्जियार की याद दिलाते हैं।
  5. धराना वैली: यह बरोट वैली से कुछ किलोमीटर दूर है और यहाँ के पास बाग़ पुल और वन्यजीव आभ्यारण्य हैं।

बरोट वैली उन पर्यटकों के लिए एक सांत्वना और प्राकृतिक सौंदर्य का स्थल है जो शांतिपूर्णता और प्राकृतिकता का आनंद लेना चाहते हैं।

Watch This Web Story:

स्विट्जरलैंड छोड़िये भारत की इस जगह को अपनी अगली छुट्टी प्लान करे
क्या आपने देखा है भारत का मिनी स्विट्जरलैंड ?Auli Hill Station Uttarakhand

1 thought on “ये हैं भारत के 6 ‘Mini Switzerland ‘ विदेशी आते हैं देखने, क्या आप घूमे हैं?”

Leave a Reply

x
error: Content is protected !!
Scroll to Top